Recent Posts

Sports

test

Gandhi Murder- नाथूराम गोडसे से जब अदालत में पुछा गया कि क्यों मारा गाँधी जी को गोली, जानिए जवाब?

अहिंसा के सिद्धांत से लिप्त मोहनदास करमचंद्र गाँधी का जन्म २ अक्टूबर १८६९ को गुजरात के पोरबंदर जिले में हुआ था. गाँधी जी न सिर्फ अहिंसा के अस्त्र से अंग्रेजो को सबक सीखने में कामयाब रहे है. बल्कि इन्ही की प्रेरणा से पूरी दुनिया सहित दक्षिण अफ्रीका के नेंशल मंडेला का जीवन ओतप्रोत रहा है.

gandhi ji ko goli, GANDHI JI HISTROY

पुणे में जन्मे नाथूराम गोडसे के गोली मारने के कारण गाँधी जी की मौत ३० जनवरी १९४८ को हुआ था. देश को आजादी दिलाने के लिए दर-दर की ठोकरे खाने वाले गाँधी जी ने आजाद भारत के स्वाद से वंचित रह गए थे. जब देश के सबसे बड़ी न्यायिक व्यवस्था के सुप्रीम कोर्ट के द्वारा नाथूराम गोडसे को गोली मारने का कारण पुछा गया. तो उनका जवाब कुछ इस प्रकार था.

gandhi ji social work, gandhi ji visit gaanv
उन्होंने कहा, कभी कभी सम्मानपूर्वक देशवाशियों के प्रति प्यार हमें अहिंसा की राह से हटने को मजबूर कर देता है. अगर गाँधी जी अपने बलपूर्वक एक शत्रु को अपने वश में किया होता. तो गाँधी की यह बात धार्मिक और नैतिकता से जकड़ी हुई मानी जाती. और वो मुसलमानो द्वारा किया गया जुल्म का विरोध विरोध नहीं किये. यही मुख्य कारण था जो नाथूराम विनायक गोडसे ने ऐसा निर्णायक कदम उठाया.
godse and gandhi ji

नाथूराम गोडसे के सहयोगी गोपल गोडसे ने अपनी किताब में लिखा है, गाँधी के पुत्र देवदास गाँधी जी गोली लगने पर शायद इस उम्मीद से आये होंगे. कि उन्हें कोई कोई वीभत्स चेहरे वाला, गांधी के खून का प्यासा कातिल नजर आएगा. लेकिन सहज और सौम्य चेहरे वाला कातिल देवदास की सोच से भिन्न निकला.
gandhi hatyakand

गाँधी की विचारधारा और त्याग को भूलना उतना ही कठिन है. जितना धरती से आसमान को अलग समझना है. क्या गोडसे ने गाँधी को गोली मारकर देशहित में काम किया था या फिर यह एक अपराध था. कमेंट में अपना स्वच्छ विचार ही लिखे. लाइक एंड शेयर जरूर करे. धन्यबाद
Gandhi Murder- नाथूराम गोडसे से जब अदालत में पुछा गया कि क्यों मारा गाँधी जी को गोली, जानिए जवाब? Gandhi Murder- नाथूराम गोडसे से जब अदालत में पुछा गया कि क्यों मारा गाँधी जी को गोली, जानिए जवाब? Reviewed by ALL YOUTUBE PRODUCT on नवंबर 01, 2018 Rating: 5

कोई टिप्पणी नहीं:

thank for your feedback

Blogger द्वारा संचालित.